Header Ads

Kaimur Top News: नए सुपर स्पेशलाइज्ड कोर्स होंगे राज्य में उपलब्ध...




- आईजीआईएमएस को 10 नए सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों की मिली मंजूरी.
- अब कुल 16 सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों पर होगी पढाई.

कैमूर टॉप न्यूज़,कैमूर: पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद सुपर स्पेशलाइज्ड कोर्स करने की तमन्ना रखने वाले डॉक्टरों के लिए खुशखबरी आई है. मेडिकल काउंसिल ऑफ़ इंडिया(एमसीआई) ने आईजीआईएमएस में 10 सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों की मंजूरी दी है  इससे राज्य के भीतर ही अब सुपर स्पेशलाइज्ड कोर्स करने का मौका मिल पाएगा
मेडिकल सुप्रीटेंडेंट आईजीआईएमएस डॉ. मनीष मंडल ने बताया कि वर्ष 2012 से ही गैस्ट्रोमेडीसीन में डीएम( डॉक्ट्रेट ऑफ़ मेडिसिन) कोर्स एवं यूरोलॉजी में एमसीएच( मास्टर इन चेरोलॉजी) की पढाई शुरू हो गयी थी एवं दोनों कोर्सों में 2-2 सीटें दी गयी थी. डीएम एवं एमसीएच पोस्ट ग्रेजुएट यानि एमडी एवं एमएस के बाद की जाने वाली सुपर स्पेशलाइज्ड कोर्स की श्रेणी में आता है. उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में न्यूरोमेडिसिन, नेफ्रोलॉजी, कार्डियोलॉजी में डीएम कोर्स एवं गैस्ट्रोसर्जरी, न्यूरोसर्जरी एवं पैडीट्रिकसर्जरी में एमसीएच कोर्स शुरू करने  के लिए एमसीआई में आवेदन दिया गया था. जिसमें वर्ष 2018 में न्यूरोमेडिसिन में डीएम कोर्स की मंजूरी भी मिली. 
डॉ. मंडल ने बताया कि आईजीआईएमएस को एमसीआई में दी गयी आवेदन के सापेक्ष अलग-अलग विभागों के लिए सोमवार को कुल 10 नए सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों की मंजूरी मिली है. जिसमें डीएम- नेफ्रोलॉजी में तीन सीट, डीएम-कार्डियोलॉजी में तीन सीट, एमसीएच- न्यूरोसर्जरी में दो सीट पर पढाई होगी. यूरोलॉजी में पहले से ही एमसीएच के लिए दो सीटों पर पढाई हो रही थी. अब एमसीएच-यूरोलॉजी में दो सीट की जगह चार सीटों पर पढाई होगी. इस तरह कुल 10 नए सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों की मंजूरी के बाद आईजीआईएमएस में कुल 16 सुपर स्पेशलाइज्ड सीटों पर पढाई हो सकेगी. 


डीएनबी एवं एमएस पदों में भी हुई वृद्धि :


डॉ. मनीष मंडल ने बताया है कि इस वर्ष माह फरवरी के बाद आईजीआईएमएस में कुछ और सीटों में भी वृद्धि हुई है. इएनटी एवं ओर्थो में एमएस कोर्स के लिए दोनों में 3-3 सीटों की बढ़ोतरी हुई है. डीएनबी( डिप्लोमेट इन नेशन बोर्ड) कोर्स के लिए भी कुल 6 सीटों में वृद्धि की गयी है. गायनी में प्राइमरी डीएनबी के लिए दो सीट एवं सेकेंडरी डीएनबी के लिए भी दो सीटों में बढ़ोतरी हुई है. जबकि इमरजेंसी मेडिसिन में भी सेकेंडरी डीएनबी कोर्स की शुरुआत हुई है जिसमें कुल दो सीटों पर पढाई शुरू हो चुकी है.


No comments