Header Ads

दुकानदारों के लिए अब सिक्के हुए भारी, बिना किसी सरकारी आदेश के ग्राहकों से सिक्के लेने से कर रहे हैं मना...



कैमूर टॉप न्यूज़,मोहनिया: नोटबंदी के बाद अर्थव्यवस्था को सुचारू रखने में जिन सिक्कों ने लोगों की काफी मदद की थी. आज वही सिक्के लोगों की नजर में खटक रहे हैं. सिक्कों को दुकानदार नही लेना चाह रहे हैं और ना ग्राहक. बात अगर मोहनिया बाजार की करें तो यहां लगभग सारे ही दुकानदार सिक्के लेने से कतरा रहे हैं. वजह पूछने पर बैंकों का हवाला देते हैं कि जब हम पैसे बैंकों में जमा करने जाते हैं तो बैंक हमसे सीक्के लेते नहीं तो हम इतने सिक्कों का करेंगे क्या? कई दुकानदारों ने तो कहा कि हमारी दिन भर की जमा पूंजी में आधी तो सीक्कों में फंस जाती है.

जिसके वजह से हम व्यापारियों से माल खरीदकर अपने व्यवसाय को बढ़ा नहीं पाते. इसी वजह से शहर के दुकानदार सिक्कों की खनखनाहट से दूर भाग रहे हैं. पिछले कई महीनों से एक और दो के सिक्कों से पीछा छुड़ा रहे दुकानदारों की नजर में अब तो पांच और दस के भी सिक्के खटकने लगे हैं. ज्यादा मात्रा में बड़े सिक्के होने पर दुकानदार उसे लेने से इंकार कर रहे हैं. वैसे यह हालत मोहनिया के अलावा जिले के लगभग सभी मुख्य बाजारों की है. वहीं शहर के एटीएम भी लगभग मूर्छित अवस्था में है. पूरे शहर में 13 एटीएम होने के बावजूद मात्र दो एटीएम ही सुचारू रूप से चल रहे हैं. बाकी सारे एटीएम बंद पड़े हैं. चालू पड़े एटीएम में रामगढ़ रोड स्थित एचडीएफसी बैंक और स्टेशन रोड स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम है. जिनमें सारे दिन कड़ी व चिलचिलाती धूप में खड़े होकर लोग पैसे निकाल रहे हैं. क्योंकि चुनाव बीतने के बाद भी ग्राहकों को बैंक अभी आवश्यकतानुसार रुपए देने में असमर्थता जता रहे हैं. जिससे शादी विवाह के सीजन में लोगों को काफी प्रॉब्लम हो रही है. इस वजह से जिनके पास सिक्के जमा है. वह उससे अपना काम चलाना चाह रहे हैं. लेकिन बाजार में सिक्कों की नो एंट्री ने उपभोक्ताओं की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. हालांकि स्थानीय प्रशासन के पास अब तक ऐसी कोई शिकायत आई नहीं है. लेकिन इससे उपभोक्ता परेशान हो रहे हैं और सिक्कों के साथ दुकानों के चक्कर काट रहे हैं.


कैमूर टॉप न्यूज के लिए मोहनिया से जी पी सोनी की रिपोर्ट..


No comments