Header Ads

दहेज के लिए विवाहिता को जलाकर मार डाला, पिता ने दर्ज कराई ससुराल वालों के विरुद्ध प्राथमिकी...




कैमूर टॉप न्यूज़, कैमूर: जहां बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  "दहेज मुक्त बिहार " की सपना देख रहे हैं. वहीं लोगों ने उनकी सपना को धज्जियां उड़ा रहे हैं. ऐसा ही मामला कैमूर जिला के अंतर्गत रामगढ़ थाना  क्षेत्र के महुवर गांव में दहेज लोभियों ने एक विवाहिता को जलाकर मार डालने का मामला प्रकाश में आया है. ससुराल वालों ने विवाहिता का शव भी गायब कर दिया है. गांव वालों की सूचना पर पहुंचे लड़की के पिता ने दहेज लोभियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. घटना को लेकर मायके वालों का रो रो कर बुरा हाल है. घटना के बाद सभी आरोपित घर छोड़ कर फरार बताए जाते है. बक्सर निवासी राम लाल सिंह अपनी बेटी दिव्या की शादी 26 फरवरी 2012 को महुवर गांव के हरि सिंह का पुत्र तेज बहादुर सिंह के साथ हिन्दू रीति रिवाज के साथ धूम धाम से किए थे. शादी के कुछ दिनों बाद ससुराल वालों ने दहेज को लेकर दिव्या को प्रताड़ित करने लगे.  आखिरकार दहेज लोभियों  का कलेजा दिव्या को मौत के घाट उतारने का बाद शांत हुआ. दर्ज आवेदन में मृतका के पिता राम लाल सिंह ने उल्लेख किया है कि शादी के बाद से ही मेरी बेटी को प्रताड़ित किया जा रहा था. मेरी बेटी को कई बार मारपीट कर घर से निकालने की धमकी देते रहते थे. कई बार हमने समझा बुझाकर कर मामले को शांत कराया था. कई बार समझौता भी हुई थी. इस दौरान 25 अक्टूबर 2013 को मेरी पुत्री का एक पुत्र भी हुआ. उसके बाद हमने अपनी पुत्री को लेकर दिल्ली चले गए. उसके बाद ससुराल वालों ने हम लोगों से समझौता कर के मेरी बेटी दिव्या सिंह को अपने साथ लेते गए और बोले थे कि आपकी बेटी के साथ मारपीट व ताना बाना नहीं करेंगे. बीच मे हम जब अपनी बेटी को विदा कराने ससुराल वालों के पास गए तो वो लोग दहेज की मांग करने लगे. उस समय पैसे देने से मैने इनकार कर किया  था. जब मुझे पता चला कि मेरी बेटी गायब है तब मैं खोजबीन करने पर पता चला कि बनारस के एक अस्पताल में भर्ती है. ईलाज के दौरान इसकी मौत हो जाने की बात ससुराल दवालों द्वारा कही गई और फोन पर ससुराल वालों द्वारा धमकी दिया गया कि अगर थाने में मामले का केश किया तो तुम्हारे घर में तबाही मचा देंगे. थानाध्यक्ष नेयाज अहमद ने बताया कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज हुई है. पति तेजबहादुर सिंह भसुर वीरबहादुर सिंह,ससुर हरि सिंह, व नन्द कके ऊपर प्राथमिकी दर्ज हुई है.


No comments