Header Ads

हर व्यक्ति को लेना होगा पर्यावरण के संरक्षण का संकल्प - डीएम

वृक्षारोपण करने पहुंचे डीएम एसपी व अन्य

कैमूर टॉप न्यूज़, कैमूर पर्यावरण संरक्षण के लिए भी सभी लोगों को लक्ष्य बनाना होगा. सभी लोग लक्ष्य बनाए और पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधारोपण करें.            किसी मुकाम को पाने के लिए लोगो को लक्ष्य बनाना पड़ता है. उसके लिए मेहनत करते हैं उसी तरह पर्यावरण संरक्षण के लिए भी सभी लोगों को लक्ष्य बनाना होगा. सभी लोग लक्ष्य बनाए और पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधारोपण का कार्य करे. लगाए गए पौधों की देखभाल भी करने का संकल्प लें. इससे लगाए गए पौधे बचेंगे तो पर्यावरण हरा भरा रहेगा. यह बातें डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने गुरुवार को वन महोत्सव के शुभारंभ के दौरान उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कही. 

इसके पूर्व गुरुवार को सदर अस्पताल परिसर में पौधारोपण करने के लिए पहुंचे डीएम ने अपने हाथों से पौधा लगाया. इस मौके पर उपस्थित एसपी दिलनवाज अहमद, सीएस डॉ. अरूण तिवारी, एसडीएम जन्मेजय शुक्ला, डीडीसी केपी गुप्ता, डीएसओ प्रभात कुमार झा सहित अन्य पदाधिकारियों ने भी अपने-अपने हाथ से एक-एक पौधा लगाय. इसके बाद डीएम के साथ सभी पदाधिकारी शिक्षा विभाग, कृषि विभाग कार्यालय परिसर में पहुंच कर पौधारोपण का कार्य पूरा किया. इस दौरान नगर के आमलोगों ने भी बढ़ चढ़ कर सहयोग किया. पदाधिकारियों द्वारा पौधा लगाने के बाद उसकी सिचाई भी की गई. बता दें कि आपको जिले में एक अगस्त से 15 अगस्त तक वन महोत्सव मनाया जाएगा. इस दौरान जिला कृषि विभाग को 51 हजार पौधे, जिला सहकारिता विभाग को 42 हजार, जिला शिक्षा विभाग को 21 हजार, पथ निर्माण विभाग को 15 हजार, नप भभुआ व नपं मोहनियां को 11 हजार, आपूर्ति विभाग को छह हजार, आइसीडीएस विभाग को 21 सौ, स्वास्थ्य विभाग को एक हजार पौधे व मनरेगा को एक लाख 53 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है. इसके अलावा एक व्यक्ति को 50 पौधा मिल सकता लगाने के लिए. वन विभाग की ओर से एक पौधा का कीमत दस रूपया रखा गया है. वहीं नर्सरी से पौधा लेने पर एक पौधा की कीमत 15 रूपया होगा. वन विभाग के पास आम का पौधा नहीं है. इसके अलावा कटहल, नीम, अर्जुन, शीशम, आवंला, जामुन आदि कई प्रकार के पौधे वन विभाग व नर्सरी में उपलब्ध है. जिसे प्राप्त कर आमलोग भी इस अभियान में भागीदारी बन सकते हैं. डीएम ने जिले के लोगों से भी अपील करते हुए कहा कि पर्यावरण को संरक्षण करने और वातावरण को शुद्ध बनाने में अपना सहयोग करें.

- रोहित ओझा


No comments